कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने दिल्ली में AAP को 4 सीटों की पेशकश की, कहा- गठबंधन के लिए दरवाजा अभी भी खुला

0
81
राहुल ने दिल्ली में AAP को 4 सीटों की पेशकश की, कहा- गठबंधन के लिए दरवाजा अभी भी खुला

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आम आदमी पार्टी से गठबंधन को लेकर बड़ा बयान दिया है। सोमवार को राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि दिल्ली में भाजपा को हराने के लिए कांग्रेस आम आदमी पार्टी से गठबंधन को तैयार है। दिल्ली में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बीच संभावित गठबंधन एक अबूझ पहेली बन गई है। गठबंधन को लेकर दोनों पार्टियों के बीच हां-ना, हां-ना के बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने AAP के सामने खुली पेशकश की है। 7 सीटों वाली दिल्ली में आम आदमी पार्टी के लिए 4 सीटों की पेशकश करते हुए राहुल ने कहा है कि अब बारी AAP की है। कांग्रेस अध्यक्ष ने केजरीवाल पर यू-टर्न लेने का भी आरोप लगाया है। इसके जवाब में केजरीवाल ने राहुल पर बीजेपी की मदद का आरोप लगाया है।

कांग्रेस आप को चार सीटें देने को भी तैयार है, लेकिन केजरीवाल ने यू-टर्न ले लिया है।राहुल ने कहा कि गठबंधन के लिए कांग्रेस के दरवाजे अभी भी खुले हुए है, लेकिन समय निकला जा रहा है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने दिल्ली में AAP को 4 सीटों की पेशकश की, कहा- गठबंधन के लिए दरवाजा अभी भी खुला

राहुल गांधी की ट्वीट का जवाब केजरीवाल ने भी ट्वीट करके दिया है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ‘ कौन सा U-टर्न?अभी तो बातचीत चल रही थी  आपका ट्वीट दिखाता है कि गठबंधन आपकी इच्छा नहीं मात्र दिखावा है। मुझे दुःख है आप बयान बाज़ी कर रहे हैं। आज देश को मोदी-शाह के ख़तरे से बचाना अहम है। दुर्भाग्य कि आप यूपी और अन्य राज्यों में भी मोदी विरोधी वोट बांट कर मोदी की मदद कर रहे हैं।

राहुल ने दिल्ली में AAP को 4 सीटों की पेशकश की, कहा- गठबंधन के लिए दरवाजा अभी भी खुला

आप के नेता गोपाल राय ने भी कहा कि राहुल गांधी जी 18 सीटों पर भाजपा को हराने के लिए दिलचस्पी क्यों नही दिखा रहे हैं। राहुल गांधी जी ने चार सीट का दरवाजा खोला है तो हमने दिल्ली, हरियाणा और चंडीगढ़ में 18 सीट पर भाजपा को हराने के लिए दरवाजा खोल रखा है।

केजरीवाल के ट्वीट के बाद कांग्रेस के दिल्ली प्रभारी पी. सी. चाको ने कहा कि AAP दिल्ली से बाहर 18 सीटों पर गठबंधन चाहती है। उन्होंने कहा कि पहले दिल्ली पर तो बात हो जाए। चाको ने दो टूक कहा कि एक राज्य में गठबंधन के फॉर्म्युले को दूसरे राज्य में लागू नहीं किया जा सकता।

बता दें कि दिल्ली में छठे चरण में 12 मई को वोटिंग है। इसके लिए 16 अप्रैल से नामांकन शुरू हो जाएगा। 23 अप्रैल नामांकन की आखिरी तारीख है। AAP-कांग्रेस के संभावित गठबंधन की वजह से बीजेपी ने भी दिल्ली में अपने उम्मीदवारों के नाम का ऐलान नहीं किया है।

LEAVE A REPLY