दिल्ली सीलिंग पर बवाल : मायापुरी में सुरक्षाबलों-लोगों में झड़प,14 घायल

0
59
दिल्ली सीलिंग पर बवाल : मायापुरी में सुरक्षाबलों-लोगों में झड़प,14 घायल

उल्लेखनीय है कि मायापुरी कबाड़ मार्केट में गैस कटर और अन्य वजहाें से होने वाला प्रदूषण राेकने के लिए एनजीटी ने यहां सीलिंग का आदेश दिया था। शनिवार सुबह करीब 10 बजे निगम का दस्ता दिल्ली पुलिस, सीआरपीएफ और आईटीबीपी के जवानों के साथ सीलिंग करने पहुंचा। विराेध में व्यापारी नारेबाजी करने लगे। करीब 12.30 बजे भीड़ उग्र हाे गई और पथराव शुरू कर दिया। आईटीबीपी और सीआरपीएफ के जवानों को पीटकर उनके हथियार छीनने का प्रयास किया। कई वाहनों में तोड़फोड़ की गई।

वेस्ट दिल्ली के मायापुरी इलाके में शनिवार को सीलिंग की कार्रवाई साउथ एमसीडी ने यूं ही नहीं शुरू की। नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) की सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों को जेल भेजने की धमकी के बाद प्रशासन हरकत में आया और एक्शन की तैयारी की गई। इसके बाद मायापुरी में प्रशासन की ओर से नोटिस दिए गए और फिर शनिवार को सीलिंग की कार्रवाई शुरू हो गई। एनजीटी ने 14 मई, 2015 को मायापुरी की स्क्रैप इंडस्ट्री को बंद करने का आदेश दिया था। इस आदेश का पालन नहीं होने की शिकायत के बाद एनजीटी में दोबारा सुनवाई हुई।

दिल्ली सीलिंग पर बवाल : मायापुरी में सुरक्षाबलों-लोगों में झड़प,14 घायल

ट्रिब्यूनल ने सरकार से स्टेटस रिपोर्ट दाखिल करने को कहा, जिसमें इंडस्ट्री बंद नहीं होने की बात सामने आई। 11 अप्रैल, 2019 को एनजीटी ने मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि ट्रिब्यूनल के आदेश का पालन नहीं हो रहा। आदेश में 2016 के एक सर्वे का हवाला देते हुए कहा कि 15000 लोगों की मौत प्रदूषण की वजह से हुई। एनजीटी ने दिल्ली सरकार के चीफ सेक्रेटरी और डीपीसीसी सदस्यों पर सख्त टिप्पणी की। उसने कहा कि प्रशासन आदेश का पालन नहीं करा पा रहा, ऐसे में क्योंं न इन्हें जेल भेज दिया जाए।

दिल्ली सीलिंग पर बवाल : मायापुरी में सुरक्षाबलों-लोगों में झड़प,14 घायल

पश्चिमी दिल्ली के मायापुरी स्थित कबाड़ मार्केट में शनिवार काे सीलिंग करने पहुंची टीम पर व्यापारियों ने जमकर पथराव किया। भीड़ काे खदेड़ने के लिए सुरक्षाबलाें ने भी लाठीचार्ज किया। झड़पाें में दिल्ली कैंट के एसडीएम, स्थानीय एसीपी और दिल्ली प्रदूषण नियंत्रण समिति के कर्मचारियों सहित 14 लोग घायल हुए हैं। पुलिस ने सरकारी काम में बाधा पहुंचाने, तोड़फोड़ और पथराव का केस दर्ज किया है। देर शाम तक काेई गिरफ्तारी नहीं हो पाई थी।

व्यापारियों को पीटना शर्मनाक : केजरीवाल

अपने ही व्यापारियों को इस तरह पीटना बेहद शर्मनाक है, व्यापारियों ने हमेशा धन और वोट से भाजपा का साथ दिया। बदले में भाजपा ने उनकी दुकानें सील कीं और उनको लाठियों से पीटा। चुनाव में भी व्यापारियों पर इतना बर्बर लाठी चार्ज? भाजपा साफ कह रही है, नहीं चाहिए भाजपा को व्यापारियों का साथ। अगर दिल्ली पूर्ण राज्य होती तो हम 24 घंटे में सीलिंग रुकवा देते।

झड़प का वीडियाे दिखाकर आप ने प्रधानमंत्री माेदी काे डायर कहा

उल्लेखनीय है कि शनिवार काे ही अमृतसर के जलियांवाल बाग नरसंहार के 100 साल पूरे हुए हैं। आप ने मायापुरी की घटना काे उस नरसंहार के साथ जाेड़कर ही प्रधानमंत्री माेदी काे डायर कहा है। अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी ने मायापुरी में हुए बवाल पर प्रधानमंत्री नरेंद्र माेदी काे डायर कहा है। सुरक्षा बलाें और व्यापारियाें की झड़पाें का एक वीडियाे शेयर कर आप ने ट्वीट किया, “खाैफनाक! जनरल डायर माेदी की पुलिस मायापुरी में नागरिकाें पर बेरहमी से पथराव कर रही है।

LEAVE A REPLY